Thursday, January 24, 2019

हल्का भोजन भारी काम समय पर आराम इन कमियों में होगा विराम

शारीरिक रूप से स्वस्थ होते हुए भी हम अपने आप को खुश नहीं रख पाते है. इनके कई शारीरिक और मानसिक कारण देखने को मिलते है. जो हमारे हाथ में है हम उसमें अवश्य सुधार कर सकते है. इसी आधार पर हम बात करेंगे हमारी पहचान हमारा आधार, जो है हमारी आदतें. चेरहे पर तेज और सादगी अपना अच्छा प्रभाव देखने वाले पर छोड़ते है. जिसको हम इस पर नियंत्रण में कर सकते है.
हल्का भोजन भारी काम समय पर आराम इन कमियों में होगा विराम
हल्का भोजन भारी काम समय पर आराम इन कमियों में होगा विराम

वर्तमान समय फेशन से भरपूर है. फेशन करने के साथ-साथ साधारण दिखाई देना भी आवश्यक हो जाता है क्योंकि समाज में अच्छा व्यवहार ही सफलता का प्रतीक माना जाता है. जिस प्रकार भोजन खाने की एक सीमा होती है उसी प्रकार गुस्से और प्यार की एक सीमा होती है इस सीमा में रहने वाले व्यक्ति का व्यक्तित्व प्रभावशाली होने से साथ-साथ चेहरा भी तेज से भरपूर होता है. बुजुर्गों में सहन शक्ति अर्थात् धेर्य होता है जिससे उनका चेहरा आकर्षक बना रहता है.
हल्का भोजन भारी काम समय पर आराम इन कमियों में होगा विराम
हल्का भोजन भारी काम समय पर आराम इन कमियों में होगा विराम

हल्का भोजन और भारी काम समय पर आराम कहने का भाव है की हमारे बुजुर्ग हमेशा रबड़ी, दलिया, लस्सी, दही, विभिन्न दाल आदि को खाने में शामिल करते थे. वर्तमान युवा के विचार कुछ भिन्न है वो पेटीज, समोसा,बर्गर आदि को खाने के अधिक महत्व देते है. जिससे शरीर की अधिक उर्जा खर्च होती है. सादा भोजन आसानी से पच जाता है मन हल्का और शांत रहने से प्रत्येक कार्य में मन लगा रहता है. स्वाभाव भी चिडचिडा नहीं होता है.
हल्का भोजन भारी काम समय पर आराम इन कमियों में होगा विराम
हल्का भोजन भारी काम समय पर आराम इन कमियों में होगा विराम

लगभग साधारण किसान हमेशा सादा भोजन करता है और खेत में परिश्रम करके भोजन से प्राप्त उर्जा का सही प्रयोग करता हो जिससे शरीरी फिट और आकर्षक होता है. अन्य कार्यों में लगे व्यक्ति जो शरीरिक परिश्रम चाहकर नहीं कर सकते है. उन्हें अक्सर अधिक बीमारियों का सामना करना पड़ता है.
अत: सादा भोजन अपनाएं क्योंकि कुछ खोकर ही कुछ पाया जा सकता है. हो सके तो भोजन उतना ही करें जिससे प्राप्त उर्जा को शरीर खर्च कर सके, इससे कई प्रकार की समस्याओं से छुटकारा मिलेगा.

No comments:

Post a Comment