Saturday, January 5, 2019

Five fast bowlers: अपने दम पर जीता सकते हैं वर्ल्ड कप

2019 की शुरुआत के बाद क्रिकेट प्रेमियों को विश्व कप का बेसब्री से इंतजार है। 2019 का वर्ल्ड कप इंग्लैंड में खेला जाएगा। 2015 विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया अपना खिताब बचाने मैदान पर उतरेगी। इंग्लैंड की सपाट पिचों पर तेज गेंदबाजों की भूमिका सबसे अहम होगी। पावरप्ले से लेकर डेथ बॉलिंग तक तेज गेंदबाज महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे।

विश्व कप के पहले मैच में केवल 5 महीने ही शेष हैं तो बात करते हैं ऐसे तेज गेंदबाजों की जो अपने दम पर पूरा मैच पलटने की काबिलियत रखते हैं। हालांकि तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन उनकी फिटनेस पर निर्भर होगा। 2019 की शुरुआत में काफी क्रिकेट खेला जाना है, जिसमें बीबीएल से लेकर आईपीएल शामिल है।

आईपीएल के अप्रैल में होने के कारण कुछ कप्तानों ने खिलाड़ियों की फिटनेस और वर्क लोड पर चिंता जाहिर की है। देखना यह होगा कि सेलेक्टर्स और टीम मैनेजमेंट खिलाड़ियों को कैसे संभालते हैं?

आइए बात करते हैं उन गेंदबाजों की जो अपनी काबिलियत के दम पर मैच का रुख मोड़ सकते हैं :


#1. जसप्रीत बुमराह

Five fast bowlers: अपने दम पर जीता सकते हैं वर्ल्ड कप


जसप्रीत बुमराह क्रिकेट जगत के सबसे अनोखे गेंदबाज बन कर उभरे हैं। कुछ क्रिकेट पंडितों के अनुसार बुमराह भारत के अब तक के सबसे बेहतरीन गेंदबाज हैं। छोटे रनअप के साथ लगभग 150 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी करना अपने आप में एक कला है।

जसप्रीत बुमराह के पास एक परफेक्ट तेज गेंदबाज के तौर पर सब कुछ है ,उनका अलग गेंदबाजी एक्शन हर किसी बल्लेबाज की समझ से परे है। इसमें कोई संदेह नहीं कि बुमराह वर्तमान के बेस्ट गेंदबाज हैं ,आंकड़े भी इसी तरफ इशारा करते हैं।

इसीलिए वह वनडे आईसीसी रैंकिंग में नंबर एक पर बने हुए हैं। सधी हुई यॉर्कर के साथ साथ वह धीमी गति की गेंद फेकने में माहिर है, जिसे पढ़ने में बल्लेबाजों को काफी परेशानी होती है। 25 वर्षीय बुमराह 21 की औसत से 78 विकेट झटक चुके हैं। भारत की वर्ल्ड कप जीतने की राह में बुमराह सबसे बड़ा हथियार साबित हो सकते हैं।

(बुमराह ने डाली ऐसी हैरतअंगेज गेंद, समझ नहीं पाए बल्लेबाज, वीडियो दैनिक भास्कर ने प्रोवाइड किया है)

#2. कगिसो रबाडा

Five fast bowlers: अपने दम पर जीता सकते हैं वर्ल्ड कप

टेस्ट रैंकिंग के नंबर एक गेंदबाज कगिसो रबाडा किसी परिचय के मोहताज नहीं है। 23 वर्ष की कम उम्र में रबाडा ने क्रिकेट जगत में कई रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं। यॉर्कर से लेकर तेज बाउंसर तक सब रबाडा के तरकश के तीर हैं।

तेज पिच पर रबाडा को खेलना नामुमकिन हो जाता है, इतनी कम उम्र में वह दक्षिण अफ्रीका टीम के सबसे अहम खिलाड़ी बन चुके हैं। रबाडा ने पहले वनडे से ही रिकॉर्ड अपने नाम करने का सिलसिला शुरू कर दिया था, उन्होंने अपना वनडे डेब्यू बांग्लादेश के खिलाफ करते हुए शानदार हैट्रिक बनाई। टेस्ट क्रिकेट में भी यह दिग्गज लगातार शीर्ष पर बना हुआ है। रबाडा अब तक 57 एकदिवसीय मैचों में 93 विकेट गिरा चुके हैं और यह उनके लिए सिर्फ शुरुआत है।

अगर दक्षिण अफ्रीका अपना पहला विश्वकप जीतना चाहती है तो रबाडा को सबसे बड़ा रोल अदा करना होगा और उनकी टीम को रबाडा से यही अपेक्षा होगी।

#3. ट्रेंट बोल्ट

Five fast bowlers: अपने दम पर जीता सकते हैं वर्ल्ड कप

ट्रेंट बोल्ट न्यूजीलैंड के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक है। अच्छी गति और स्विंग से वह दुनिया के बड़े से बड़े बल्लेबाजों को छका चुके हैं। 29 वर्षीय बोल्ट अब तक वनडे क्रिकेट में 25 की औसत से 128 विकेट ले चुके हैं।बोल्ट 2018 के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक हैं, बात टेस्ट क्रिकेट की हो या वनडे की ट्रेंट बोल्ट किसी भी फॉर्मेट में पीछे नहीं है।

पिच के इस्तेमाल से लेकर गति परिवर्तन में बोल्ट का कोई तोड़ नहीं है। साल 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 50 ओवर के मैच में बोल्ट ने 7 विकेट लेकर सभी को हैरान कर दिया। ट्रेंट बोल्ट ने कई मौकों पर न्यूजीलैंड को अकेले दम पर जीत दिलाई है और आने वाले विश्वकप में बिना किसी शक वह सबसे खतरनाक गेंदबाजों में से एक होंगे। बात करें विश्व कप 2015 की तो बोल्ट विकेट सूची में आस्ट्रेलियाई मिचेल स्टार्क के साथ शीर्ष पर थे, दोनों ने 22 विकेट झटके थे।


#4. जोफ्रा आर्चर

Five fast bowlers: अपने दम पर जीता सकते हैं वर्ल्ड कप

​अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अनजान यह नाम जल्द ही इंग्लैंड क्रिकेट के लिए डेब्यू कर सकता है। बारबाडोस में जन्मे जोफ्रा इंग्लैंड की काउंटी टीम ससेक्स के लिए खेलते हैं। आईपीएल और बीबीएल में अपना जलवा बिखेर चुके आर्चर तेज गेंदबाजी के लिए मशहूर हैं।

इंग्लैंड की चयन प्रक्रिया के हिसाब से अब जोफ्रा आर्चर टीम में खेलने योग्य हैं। तेज गेंदबाज होने के साथ-साथ वह निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाजी भी कर सकते हैं। 24 वर्षीय आर्चर चयनकर्ताओं की नजरों में 2017 में आए, जब उन्होंने कैंट के खिलाफ खेलते हुए 70 रन देकर छह विकेट झटक डाले। इसके बाद जोफ्रा आर्चर ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और राजस्थान रॉयल की तरफ से आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट हासिल किया। आईपीएल के 2018 सत्र में राजस्थान की तरफ से खेलते हुए आर्चर ने 10 मैचों में 15 विकेट लिए।

अगर जोफ्रा आर्चर का चयन इंग्लैंड की टीम में होता है तो विश्वकप के लिए वह अहम गेंदबाज की भूमिका अदा कर सकता है। उनके पास इंग्लैंड में खेलने का अच्छा खासा अनुभव है और वह लिस्ट ए करियर में अब तक 14 मैच में 21 विकेट चटका चुके हैं।

#5. डेल स्टेन

Five fast bowlers: अपने दम पर जीता सकते हैं वर्ल्ड कप



डेल स्टेन का नाम विश्व के महान गेंदबाजों में आता है। 2 साल चोट से जूझने के बाद स्टेन ने क्रिकेट में वापसी की है। दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान के बीच में खेले जा रहे टेस्ट में डेल ने दक्षिण अफ्रीका की ओर से सर्वाधिक टेस्ट विकेट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम किया।

फखर जमान का विकेट लेने के बाद शॉन पोलक को पछाड़ते हुए डेल स्टेन ने यह मुकाम हासिल किया। बात करें छोटे फॉर्मेट की तो वह अपनी टीम के मुख्य गेंदबाज होंगे। वनडे क्रिकेट में डेल 25 की औसत से 192 विकेट ले चुके हैं और 200 का आंकड़ा छूने से केवल 8 विकेट दूर हैं। इसमें कोई संदेह नहीं कि 35 साल के स्टेन का यह आखिरी वर्ल्ड कप होगा और वह अपने देश को पहला विश्व कप जिताना चाहेंगे।


फ़ालाबोर्वा एक्सप्रेस के नाम से पुकारे जाने वाले डेल स्टेन इस समय अपनी फिटनेस और गेंदबाजी पर काफी मेहनत कर रहे हैं और वह अपनी धारदार गेंदबाजी के दम पर किसी भी वक्त खेल का रुख मोड़ सकते हैं।


No comments:

Post a Comment