Friday, December 14, 2018

AUS vs IND, 2nd Test: पहले ही दिन कोहली कर बैठे 'विराट' गलत



पर्थ में टॉस जीतने के बाद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने अपनी टीम को ठोस शुरुआत दी. फिंच और हैरिस शुरुआत से ही ज्यादा भरोसेमेंद और दृढ़प्रतिज्ञ दिखाई पड़े. और समय गुजरने के साथ दोनों का भरोसा बढ़ता ही गया.

AUS vs IND, 2nd Test: पहले ही दिन कोहली कर बैठे 'विराट' गलत
पर्थ: ऐसा पहली बार होता नहीं दिख रहा, जो पर्थ (Perth Stadium, Perth) में ऑस्ट्रेलिया (India tour of Australia, 2018-19) के खिलाफ शुरू हुए दूसरे टेस्ट (AUS vs IND, 2nd Test, Day 1) के पहले दिन (मैच रिपोर्ट) दिखाई पड़ा. और न ही यह आखिरी बार होने जा रहा है. लेकिन टेस्ट के पहले दिन के शुरुआती सत्र के खेल के बाद दिखाई पड़ रहा है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली, कोच रवि शास्त्री  'बड़ी भूल' कर बैठे. अब यह बड़ी गलती भारत के लिए कितनी बड़ी साबित होती है, यह तो समय ही बताएगा, लेकिन बड़ी गलती तो साफ तौर पर दिखाई पड़ रही है. निश्चित ही, इस बड़ी गलती में सुधार करना ही भारत के लिए इस मुकाबले में बड़ा चैलेंज साबित होता दिखाई पड़ रहा है. अब कप्तान  विराट के साथ कोच रवि शास्त्री इस बाबत क्या रास्ता निकालते हैं, यह देखने वाली बात होगी, लेकिन रास्ता ढूंढे से ढूंढे नहीं मिल रहा. 

पर्थ में टॉस जीतने के बाद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने अपनी टीम को ठोस शुरुआत दी. फिंच और हैरिस शुरुआत से ही ज्यादा भरोसेमेंद और दृढ़प्रतिज्ञ दिखाई पड़े. और समय गुजरने के साथ दोनों का भरोसा बढ़ता ही गया. और यह संकेत दे गया कि इस मैच में भारतीय गेंदबाजों की राह आसान होने नहीं जा रही.  विराट ने बदल-बदल कर गेंदबाजों को लगाया, लेकिन खेल के बड़े हिस्से पर कंगारू ओपनरों का ही नियंत्रण रहा. ऐसे में अब सवाल हो चला है कि यह साझेदारी कब और कितनी जल्द टूटेगी. 


मैच शुरू होने से पहले भारत ने पहले से ही अपनी 13 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया था. यह साफ था कि रोहित शर्मा की जगह हनुमा विहारी खेलने जा रहे हैं. सवाल इसी बात कर था कि आर. अश्विन की जगह कौन आएगा. लेकिन जब टीम का ऐलान हुआ, तो इसको लेकर चर्चा हो गई. शुरुआत में तो सभी ने विराट के फैसले की सराहना की, लेकिन जैसे-जैसे मैच आगे बढ़ा, तो लगा कि विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट से ब्लंडर हो गया है. दरअसल विराट कोहली इस मैच मैच में चार तेज गेंदबाजों के साथ मैदान पर उतरे. आर. अश्विन की जगह उमेश यादव को लाया गया, लेकिन वह भी ओपनरों पर असर नहीं डाल सके. 

लेकिन साफ होता गया कि पिच पर छोड़ी गई घास से सीमरों को मदद नहीं मिल रही. न ही पर्थ की पिच में पारंपरिक गति और उछाल के आस-पास की भी गति नहीं है. पिच पर गेंद रुक कर आ रही है. और साफ लग रहा है कि दूसरे टेस्ट में भारत को स्पिनर की बहुत ही ज्यादा कमी खेल सकती है. न केवल पहली पारी में. बल्कि दूसरी पीरी में तो और भी ज्यादा है. और चर्चा हो रही है कि आर. अश्विन की जगह रवींद्र जडेजा या विशेषज्ञ स्पिनर को न चुनकर बड़ी गलती कर दी है. 

खास बातें




  1. हे कोहली! ये क्या किया
  2. ऑस्ट्रेलिया टॉस जीतकर कर रहा पहले बल्लेबाजी
  3. कोहली की विराट भूल !

Who would have captained Australia had Paine been sidelined?